डेयरी खोलने के लिए 31 लाख रुपए की सब्सिडी, यहां से करें आवेदन

सरकार अब किसानों की आय बढ़ाने के लिए कदम उठा रही है। इसके तहत, किसानों को खेती के साथ-साथ पशुपालन के लिए भी प्रोत्साहित किया जा रहा है। राज्य सरकार की ओर से एक ऐसी योजना है नंदिनी कृषक समृद्धि योजना (Nandini Krishak Samriddhi Yojana) जिसका उद्देश्य है डेयरी खोलने वाले किसानों को सब्सिडी प्रदान करना। इस योजना के तहत, राज्य के किसानों को 31 लाख रुपए तक की सब्सिडी उपलब्ध होगी। इस योजना के अंतर्गत पात्र किसान आवेदन करके इसका लाभ उठा सकते हैं।

नंदिनी कृषक समृद्धि योजना क्या है?

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा नंदिनी कृषक समृद्धि योजना की शुरुआत की गई है| इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा लाभार्थी को 25 स्वदेशी गाय उपलब्ध कराई जाएगी| इन गायों का सरकार द्वारा बीमा कराया जाएगा| इस योजना के माध्यम से राज्य में देसी नस्ल की गाय पालन को बढ़ावा मिलेगा|

नंदिनी कृषक समृद्धि योजना के तहत मिलने वाली सब्सिडी

नंदिनी कृषक समृद्धि योजना के तहत किसानों द्वारा 25 दुधारू गायों की एक इकाई स्थापित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा सब्सिडी दी जाएगी| राज्य सरकार द्वारा इस इकाई की स्थापना लागत ₹62,50,000 निर्धारित की गई है| जिसमें की लाभार्थी किसान को 50% यानी 31,2500 रुपए की सब्सिडी मिल जाएगी| राज्य के जो भी इच्छुक किसान इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं अपनी आय बढ़ाना चाहते हैं वह आवेदन कर सकते हैं|

नाबार्ड डेयरी योजना

नंदिनी कृषक समृद्धि योजना के लिए पात्रता

  • उत्तर प्रदेश राज्य का कोई भी किसान इस योजना का लाभ ले सकता है|
  • आवेदक किसान का आधार कार्ड बैंक खाता लिंक होना चाहिए|
  • आवेदक किसान को कम से कम 3 साल का गाय पालन का अनुभव होना चाहिए|
  • गायों की ईयर टैगिंग होनी चाहिए|
  • आवेक किसान के पास डेयरी यूनिट स्थापना के लिए कम से कम 0.5 एकड़ भूमि होनी चाहिए|
  • लाभार्थी के पास गायों के लिए हरे चारे के उत्पादन के लिए कम से कम 1.5 एकड़ जमीन होनी चाहिए| अगर भूमि लीज पर ले रखी है तो भी चल सकती है|

नंदिनी कृषक समृद्धि योजना दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • डेयरी यूनिट स्थापना की फोटो
  • मोबाइल नंबर

डेयरी फार्मिंग लोन योजना 

नंदिनी कृषक समृद्धि योजना मुख्य बिंदु

  • नंदिनी कृषक समृद्धि योजना के अंतर्गत, किसानों को दूध बेचने के लिए संसाधन प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना से लाभार्थी पशुपालकों को उचित मूल्य में दूध बिक्री की सुविधा मिलेगी।
  • सरकारी दूध समितियाँ पशुपालकों को उनके गांव में ही दूध बेचने के लिए सुविधा प्रदान करेंगी।
  • इस योजना के तहत, सभी किसानों का डाटाबेस तैयार किया जाएगा ताकि उन्हें भविष्य में सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके।
  • साथ ही, पशु आहार और चारा बनाने वाले उद्योगों को भी अनुदान प्रदान किया जाएगा ताकि किसानों को अधिक बढ़ती हुई मांग का समर्थन मिल सके।
  • योजना की निगरानी के लिए जनपद और प्रदेश समिति का गठन किया गया है।
  • इसके अलावा, किसानों को देशी नस्ल की गायों को खरीदने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा ताकि दूध की उपलब्धता में वृद्धि हो सके।
  • इस योजना में, जनपद की महिलाओं को महत्वपूर्ण भूमिका दी जाएगी और अधिक महिलाओं को लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • चयन पत्र प्राप्ति के बाद, लाभार्थियों को 2 महीने के अंदर स्थानीय नस्ल की गिर, साहीवाल, हरियाणा, या थारपारकर गाय का खरीद किया जाएगा।

बकरी पालन योजना सब्सिडी

नंदिनी कृषक समृद्धि योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

Nandini Krishak Samriddhi Yojana को यूपी सरकार द्वारा प्रस्थापित किया गया है। इस योजना के तहत यूपी के पशुपालक किसानों को लाभ प्रदान किया जा रहा है। आवेदन करने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके उपलब्ध हैं। जब आवेदनों की संख्या अधिक होती है, तो लाभार्थी का चयन मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता वाली समिति द्वारा ई-लॉटरी के माध्यम से किया जाता है। इस योजना के प्रारंभिक चरण में, अयोध्या, गोरखपुर, वाराणसी, कानपुर, झांसी, मेरठ, प्रयागराज, लखनऊ, आगरा और बरेली जिलों के पशुपालक किसान आवेदन कर सकते हैं। योजना से संबंधित अधिक जानकारी के लिए आवेदक अपने संबंधित जिले के पशुपालन विभाग से संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़े: कामधेनु डेयरी योजना

6 thoughts on “डेयरी खोलने के लिए 31 लाख रुपए की सब्सिडी, यहां से करें आवेदन”

Leave a Comment

Floating WhatsApp Button WhatsApp Icon